10 लाख की फिरौती नहीं देने पर मासूम की हत्या कर शव आईजी के बंगले के पास फेंका

murder in jodhpur mar 2021

जोधपुर। शहर के भीतरी इलाके से गत सोमवार को लापता एक मासूम बालक का शव बुधवार को मिला है। अपहरणकर्ताओं ने मासूम की बदले दस लाख की फिरौती मांगी थी। फिरौती नहीं देने और पुलिस को सूचना देने पर अपहरणकर्ताओं ने मासूम की हत्या कर शव जोधपुर रेंज के आईजी के बंगले से कुछ दूरी पर फेंक दिया। यह शव प्लास्टिक के कट्टे में आज सुबह पोलो ग्राउंड के सामने सूखे नाले में मिला। उसका गला घोंट कर मारने का अंदेशा जताया गया है। इस सनसनीखेज घटना के सामने आने के बाद पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया। पुलिस अधिकारी मौके पर सेंपलिंग व गहन पड़ताल के साथ आसपास एरिया से निकलने वाले सीसी टीवी कैमरों के फुटेजों को देख रहे है।

mar 2021 murder in jodhpur

दरअसल खांडाफलसा थानान्तर्गत जटियों की गली कुम्हारिया कुआं निवासी बंशीलाल के पांच साल के सात साल का पुत्र हिमांशु सोमवार को शाम साढ़े चार से पांच बजे के बीच खेलता हुआ लापता हो गया था। उसकी हर जगह तलाश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया। तब उसकी पुलिस में गुमशुदगी दर्ज करवाई गई। इधर आज सुबह रातानाडा एरिया में पोलो ग्राउण्ड के पास एक सूखे नाले में प्लास्टिक कट्टे में शव मिलने की सूचना मिली। वहां से निकल रहे मजदूरों ने उसे देखा था। इस पर डीसीपी पूर्व यादव के साथ ही एडीसीपी भागचंद, एसीपी दरजाराम, रातानाडा थानधिकारी लीलाराम आदि वहां पहुंचे। पुलिस ने आसपास का एरिया सील करने के साथ मौका स्थल से साक्ष्य जुटाने शुरू कर दिए। मौके पर एफएसएल टीम और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया। डीसीपी धर्मेंद्रसिंह यादव के अनुसार यह माइनर बॉडी थी जिसके गले में फंदा पड़ा है। संदेह है कि गला घोंटा गया है। प्लस्टिक कट्टा आटा अथवा दालों में भराई के काम आने वाला है। बालक का शव मिलने पर हिमांशु के परिजन व अन्य लोगों को भी बुलाया गया। तब यह शव हिमांशु का निकला। दोपहर बाद पुलिस ने इसकी पुष्टि कर दी। इसकी पुष्टि होने पर मथुरादास माथुर अस्पताल की मोर्चरी के बाहर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई।

अपहरणकर्ताओं ने दी थी धमकी
बताया गया है कि बालक के पड़ौस में रहने वाले मोनू के पास मोबाइल पर दस लाख की फिरौती का मैसेज व व्हॉट्सअप कॉल आया था। फिर दूसरा मैसेज फिरौती नहीं देने और पुलिस को सूचना देने पर बालक के शव मिलने का आया था। पुलिस ने यह मोबाइल जब्त कर जांच शुरू कर दी है।

We are a non-profit organization, please Support us to keep our journalism pressure free. With your financial support, we can work more effectively and independently.
₹20
₹200
₹2400
नमस्कार, हम एक गैर-लाभकारी संस्था है। और इस संस्था को चलाने के लिए आपकी शुभकामना और सहयोग की अपेक्षा रखते है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के लिए, सुझाव दें। धन्यवाद।