इस भाजपा सांसद के गढ़ में, अफसरशाही व भ्रष्टाचार के विरुद्ध अनिश्चितकालीन अनशन शुरू।

Shri Ashok Kumar Yadav Madhubani Bihar News

बिहार / मधुबनी। हरलाखी प्रखंड कार्यालय परिसर में राष्ट्रीय दलित न्याय आंदोलन के जिलाध्यक्ष मोहन राम ने अफसरशाही व भ्रष्टाचार के विरुद्ध 10 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन शुरू किया है। ( Madhubani ) मधुबनी क्षेत्र के सांसद अशोक कुमार यादव है जो कि भारतीय जनता पार्टी से है।

सांसद श्री अशोक कुमार यादव एक लम्बे समय से राजनीति में है और कई पदों पर नियुक्ति प्राप्त कर कर चुके है। लेकिन लगता है इसके बाद भी यादव जी अब तक मधुबनी ( Madhubani ) को भ्रष्टाचार मुक्त नहीं कर पाए।

Shri Ashok Kumar Yadav, Positions Held
2005 – 2015 Member, Bihar Legislative Assembly (Three terms)
2005 – 2010 Member, Nivedan Committee, Bihar Legislative Assembly
2010 – 2015 Member, Zero Hour Committee, Bihar Legislative Assembly
May, 2019 Elected to 17th Lok Sabha
31 July 2019 onwards Member, Committee on Welfare of Other Backward Classes
13 Sept. 2019 – 12 Sept. 2020 Member, Standing Committee on Human Resource Development
Member, Parliamentary Committee on Official Languages
09 Oct. 2019 onwards Member, Committee on Papers Laid on the Table
Member, Central Silk Board
Member, Consultative Committee, Ministry of Petroleum and Natural Gas
13 Sept. 2020 onwards Member, Standing Committee on Education, Women, Children, Youth and Sport

प्रखंड कार्यालय में शीघ्र आधार सेंटर शुरू करवाना, प्रखंड के आरटीपीएस काउंटर पर नए राशनकार्ड के लिए फॉर्म जमा लेना, पूर्व में बनाए गए राशनकार्ड में छूटे हुए पारिवारिक सदस्य का नाम जोड़ना, कोरोना काल में घोषित राशनकार्ड धारियों के खाते में एक हजार रुपये भेजना, आपूर्ति पदाधिकारी के द्वारा जनवितरण प्रणाली से अवैध वसूली को बंद करना, प्रखंड आपूर्ति कार्यालय प्रतिदिन खुलना, बिशौल सहित अन्य पंचायतों में शौचालय प्रोत्साहन राशि में अवैध वसूली की जांच करना, प्रत्येक दाखिल खारिज में अवैध वसूली की जांचकर कार्रवाई करना, पीएम आवास योजना में नाम जोड़ने का काम शुरू करवाना व सात निश्चय योजना के तहत वार्ड के बकाया राशि का भुगतान शीघ्र करने की मांग शामिल है। अनशनकर्ता ने बताया कि इन सभी समस्याओं को लेकर स्थानीय पदाधिकारी के पास कई बार गए, लेकिन समस्या के निदान पर कोई पहल नहीं की गई। हरलाखी प्रखंड की सभी योजना अफसरशाही व भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है। अनशन के समर्थन में राकेश यादव, रामबालक यादव, देवनंदन साह, नबोनाथ झा, रिकू देवी, शिबो देवी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे। एमएसयू ने 11 सूत्री मांगों को ले शुरू की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पंडौल।

प्रखंड मुख्यालय के सामने सोमवार को मिथिला स्टूडेंट यूनियन के सदस्य 11 सूत्री मांगों के साथ अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए। नितेश सिंह राजपूत व सुदर्शन झा के नेतृत्व में दर्जनों एमएसयू कार्यकर्ताओं ने आंदोलन शुरू किया है। प्रदर्शनकारियों ने अपने 11 सूत्री मांगों का आवेदन प्रखंड विकास पदाधिकारी महेश्वर पंडित को कार्यालय में सौंपा। बीडीओ महेश्वर पंडित ने प्रदर्शन स्थल पर पहुंच प्रदर्शनकारी छात्रों से पूछताछ की और उन्हें बताया कि तीन फरवरी को ही छात्रों ने जब उन्हें उक्त संबंध में आवेदन देकर सूचना दी थी तभी उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी कार्यालय को उनके मांग पत्र के संबंध में जानकारी दी थी।

उन्होंने प्रदर्शनकारियों को यह आश्वासन भी दिया कि 11 सूत्री मांगों में जो उनके अधीनस्थ हैंए वे उसके लिए प्रयास करेंगे। अन्य मांग जिन विभागों से संबंधित हैंए उन्हें सूचित कर दिया जाएगा। जबकि, प्रदर्शनकारी लिखित आश्वासन की मांग पर अड़ गए जिससे प्रखंड विकास पदाधिकारी ने इंकार कर दिया। कहा कि उनकी सभी मांग पत्रों को संबंधित पदाधिकारियों को भेजा जा रहा है। प्रदर्शनकारी उनके आश्वासनों से संतुष्ट नहीं हुए और भूख हड़ताल जारी रखने का निर्णय लिया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब तक उन्हें लिखित आश्वासन नहीं मिलेगा, उनका आंदोलन जारी रहेगा।

We are a non-profit organization, please Support us to keep our journalism pressure free. With your financial support, we can work more effectively and independently.
₹20
₹200
₹2400
नमस्कार, हम एक गैर-लाभकारी संस्था है। और इस संस्था को चलाने के लिए आपकी शुभकामना और सहयोग की अपेक्षा रखते है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के लिए, सुझाव दें। धन्यवाद।