बुजुर्ग महिला ने अपनी सारी संपत्ति राहुल गांधी के नाम कर दी।

बुजुर्ग महिला ने अपनी सारी संपत्ति राहुल गांधी के नाम कर दी।

कृष्णकांत : देहरादून की एक बुजुर्ग पुष्पा मुंजियाल जी ने अपनी सारी संपत्ति राहुल गांधी के नाम कर दी। इसमें 50 लाख की एफडी और 10 तोला सोना है। उन्होंने बाकायदा देहरादून कोर्ट में वसीयतनामा भी पेश करके न्यायालय से अनुरोध किया कि मेरे बाद मेरी पूरी संपत्ति का मालिकाना हक राहुल गांधी को सौंपा जाए।

पुष्पा मुंजियाल ने कहा, “मैं राहुल गांधी के विचारों से काफी प्रभावित हूं। राहुल के परिवार ने देश की आजादी से लेकर आज तक हमेशा आगे बढ़कर अपनी सर्वोच्च कुर्बानी दी है। इस देश की एकता और अखंडता के लिए गांधी परिवार ने अपने प्राणों की आहुति दी है। देश को उनकी जरूरत है।”

पुष्पा मुंजियाल का कहना है, “राहुल गांधी एक सीधे-सच्चे आदमी हैं और वो मेरे पैसे का सही तरह से उपयोग करेंगे।

यह तब हुआ है जब देश का गोदी मीडिया, संघ-भाजपा की ट्रोल आर्मी और नफरत की फैक्ट्री कांग्रेसमुक्त भारत का नारा लगाती है। कहा जाता है कि अब कांग्रेस मिट जाएगी क्योंकि देश की जनता को कांग्रेस और गांधी परिवार पर यकीन नहीं है। ऐसे वक्त में एक ​बुजुर्ग महिला अपनी सारी जायदाद राहुल गांधी के नाम करते हुए कहती है कि “गांधी परिवार ने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है। देश को उनकी जरूरत है।”

2019 में भाजपा को लगभग 22 करोड़ वोट मिले थे, इसके उलट कांग्रेस को भी 11 करोड़ वोट मिले थे। हाल के विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी एक ​बंजारा बस्ती में गईं तो महिलाएं कहने लगीं कि इंदिरा जी हमारे यहां आती थीं, तबसे कोई नेता नहीं आया। कांग्रेस अब भी देश की स्मिृतियों में जीवित है और भाजपा के सामने एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है।

कांग्रेस अफवाहतंत्र और वॉट्सएप यूनिवर्सिटी में ​भले ही विलेन बनाकर पेश की जा रही हो, लेकिन अब भी देश का बड़ा तबका उम्मीद से कांग्रेस की ओर से देख रहा है, कांग्रेस को इस यकीन पर यकीन नहीं खोना चाहिए।

We are a non-profit organization, please Support us to keep our journalism pressure free. With your financial support, we can work more effectively and independently.
₹20
₹200
₹2400
Staff Avatar
नमस्कार, हम एक गैर-लाभकारी संस्था है। और इस संस्था को चलाने के लिए आपकी शुभकामना और सहयोग की अपेक्षा रखते है। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के लिए, सुझाव दें। धन्यवाद।